महानदी कोलफील्ड्स ने ओडिशा में इको-पार्क एवं कोयला संग्रहालय का किया निर्माण

उड़ीसाः   महानदी कोलफील्ड्स लिमिटेड (एमसीएल), जो कोयला मंत्रालय के तहत प्रमुख सीपीएसई है, पर्यावरण के अनुकूल और टिकाऊ खनन प्रथाओं के माध्यम से लगातार कोयला उत्पादन में नई ऊंचाइयां हासिल कर रहा है। इस दिशा में एमसीएल की नवीनतम उपलब्धि ओडिशा के झारसुगुड़ा स्थित ईब वैली कोलफील्ड्स में ओरिएंट एरिया की खदान संख्या-4 में चंद्रशेखर आजाद इको-पार्क […]

Continue Reading

KVIC की पहलःकर्नाटक के मलावल्ली में 300 मधुमक्खी-बक्से वितरित

दिल्लीः प्रधानमंत्री के ‘आत्मनिर्भर भारत’ के सपने को साकार करने के लिए खादी और ग्रामोद्योग आयोग के अध्यक्ष मनोज कुमार 18 से 21 जनवरी 2023 तक कर्नाटक के चार दिन के दौरे पर हैं। इस क्षेत्र में अपनी पहली यात्रा के दौरान उन्होंने पहले दिन केवीआईसी द्वारा लागू “हनी मिशन” कार्यक्रम के अंतर्गत उपकरण और […]

Continue Reading

वाणिज्यिक कोयला ब्लॉक नीलामी के लिए बोली की तिथि 30 जनवरी तक बढ़ी

दिल्लीः कोयला मंत्रालय ने 141 कोयला खदानों के लिए 03 नवंबर, 2022 को वाणिज्यिक कोयला खदानों की नीलामी के 5वें दौर का छठा दौर और दूसरा प्रयास शुरू किया था। उद्योग की मांग को ध्यान में रखते हुए और व्‍यवसाय करने की सुगमता  (ईओडीबी) को बढ़ावा देने के लिए मंत्रालय ने निर्णय लिया है कि निष्‍पादन बैंक गारंटी (पीबीजी) में पहला […]

Continue Reading

कोयला खानों के पानी से 900 गांवों के 18 लाख लोग हो रहे हैं लाभान्वित

* कोयला/लिग्नाइट पीएसयू हरित अभियान को गति दे रहे हैं दिल्लीः कोयला मंत्रालय के निर्देशानुसार, कोयला/लिग्नाइट पीएसयू खानों के पानी के संरक्षण और कुशल उपयोग के लिए विभिन्न कदम उठा रहे हैं। पीएसयू अपने क्षेत्रों में पेयजल और सिंचाई जैसे सामुदायिक उपयोग के लिए खानों से पानी की आपूर्ति कर रहे हैं। कोयला/लिग्नाइट पीएसयू के […]

Continue Reading

रुपे डेबिट कार्ड और BHIM-UPI लेनदेन (P2M) को बढ़ावा देने के लिए प्रोत्साहन योजना को मंजूरी

दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने अप्रैल 2022 से एक वर्ष की अवधि के लिए रुपे डेबिट कार्ड और कम मूल्य वाले भीम-यूपीआई लेनदेन (व्यक्ति से व्यापारी) को बढ़ावा देने के लिए प्रोत्साहन योजना को मंजूरी दे दी है। रुपे डेबिट कार्ड और कम मूल्य वाले भीम-यूपीआई लेनदेन (पी2एम) को बढ़ावा देने के […]

Continue Reading

कोल इंडिया ने 9 ग्रीनफील्ड परियोजनाओं को दी स्वीकृति

दिल्लीः कोयला मंत्रालय खुली वैश्विक निविदा के माध्यम से जाने-माने खनन डेवलपर्स सह ऑपरेटरों को नियुक्त करना, घरेलू कोयले के उत्पादन को बढ़ाना तथा आयात पर निर्भरता को कम करना चाहता है। संविदा नियुक्ति की अवधि 25 वर्ष या खदान का जीवन, जो भी कम हो, के लिए है। सार्वजनिक स्‍वामित्‍व की कोयला खनन कंप‍नी एमडीओ के माध्‍यम […]

Continue Reading

गाजियाबाद – पं. दीन दयाल उपाध्याय खंड भारतीय रेल का सबसे लंबा पूर्ण स्वचालित ब्लॉक सिग्नलिंग खंड बना

दिल्लीः भारतीय रेल के मौजूदा उच्च घनत्व वाले मार्गों पर और अधिक रेलगाडियां चलाने के लिए लाइन क्षमता बढ़ाने हेतु, स्वचालित ब्लॉक सिग्नलिंग (एबीएस) एक किफायती उपाय है। भारतीय रेल मिशन मोड पर स्वचालित ब्लॉक सिग्नलिंग की शुरूआत कर रहा है। एबीएस को 2022-23 के दौरान 268 आरकेएम पर अधिकृत किया गया है।  31 दिसम्बर 2022 […]

Continue Reading

भारत को ग्रीन हाइड्रोजन और इसके सहायक उत्पादों के उत्पादन, निर्यात के लिए बनेगा वैश्विक हब

दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने राष्ट्रीय ग्रीन हाइड्रोजन मिशन को मंजूरी दे दी है। मिशन के लिए प्रारंभिक परिव्यय 19,744 करोड़ रुपये होगा, जिसमें साइट कार्यक्रम के लिए 17,490 करोड़ रुपये, पायलट परियोजनाओं के लिए 1,466 करोड़ रुपये, अनुसंधान एवं विकास के लिए 400 करोड़ रुपये और अन्य मिशन घटकों के लिए 388 करोड़ रुपये शामिल हैं। नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (एमएनआरई) […]

Continue Reading

कोल इंडिया ने उत्पादन में 15.82 प्रतिशत अर्जित की वृद्धि

 * यातायात कुशलता बढ़ाने के लिये कोयला मंत्रालय रेल कनेक्टीविटी में तेजी लाने का काम कर रहा है दिल्लीः  अप्रैल-दिसंबर 2022 के दौरान भारत के कोयला उत्पादन में 16.39 प्रतिशत की शानदार वृद्धि दर्ज की गई है और उत्पादन 607.97 एमटी तक जा पहुंचा है। उल्लेखनीय है कि वित्तवर्ष 2022 की समान अवधि के दौरान […]

Continue Reading

भारत की पहली फसल है बाजरा, 130 से अधिक देशों में होता है उत्पादन, अफ्रीका-एशिया के 50 करोड़ से अधिक का है पारंपरिक भोजन

दिल्लीः  प्रधानमंत्री के नेतृत्व में भारत सरकार ने अंतरराष्ट्रीय बाजरा वर्ष (आईवाईएम)- 2023 के प्रस्ताव को प्रस्तुत किया था, जिसे संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) ने स्वीकार कर लिया। भारत सरकार के लिए यह घोषणा आईवाईएम को मनाने में सबसे आगे रहने के लिए सहायक रही है। इसके अलावा प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने भारत को […]

Continue Reading