एन०डी०ए० की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार श्रीमती द्रौपदी मुर्मू के समर्थन को लेकर आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए मुख्यमंत्री

देश

इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि बहुत खुशी की बात है कि श्रीमती द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया गया है। जब प्रधानमंत्री जी ने श्रीमती द्रौपदी मुर्मू जी को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाए जाने की सूचना दी थी तब मुझे काफी खुशी हुई थी। श्रीमती द्रौपदी मुर्मू के बारे में सभी लोगों ने विस्तारपूर्वक बातें रखी हैं। वे एक आदिवासी महिला हैं जो राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार बनायी गयी हैं, यह बड़ी बात है। हम सब श्रीमती द्रौपदी मुर्मू को आश्वस्त करते हैं कि बहुमत से आप की जीत होगी। सभी लोग ठीक ढंग से वोटिंग करते हुए आपकी जीत सुनिश्चित करेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि श्रीमती द्रौपदी मुर्मू ने उड़ीसा की विधायक और मंत्री के रूप में अपने दायित्वों का बेहतर निवर्हन किया था। साथ ही झारखंड के राज्यपाल के रूप में भी उनकी भूमिका सराहनीय रही है। उन्होंने कहा कि बिहार के राजेंद्र बाबू देश के पहले राष्ट्रपति बने थे और वे लगातार दो बार राष्ट्रपति रहे। बिहार के लिए दूसरी खुशी की बात रही कि श्री रामनाथ कोविंद जी बिहार के राज्यपाल से सीधे देश के राष्ट्रपति बने। इसके पहले जाकिर हुसैन साहब भी यहां राज्यपाल थे लेकिन पहले वे उप राष्ट्रपति बने फिर राष्ट्रपति बने। उन्होंने कहा कि श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी ने वर्ष 2002 में ए०पी०जे० अब्दुल कलाम साहब को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया था। मुझे कलाम साहब से सांसद एवं मंत्री के रूप में कई बार मिलने का मौका मिला था। वे बहुत काबिल व्यक्ति थे और बिहार में उनकी काफी गहरी रूचि थी ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 1912 में बंगाल से अलग होने के बाद बिहार और उड़ीसा एक ही प्रांत था । श्रीमती द्रौपदी मुर्मू उड़ीसा की रहनेवाली हैं तो वे एक तरह से बिहार की ही हुईं, यह बिहारवासियों के लिए काफी प्रसन्नता की बात है। प्रधानमंत्री जी ने इसके पहले अनुसूचित जाति के एक व्यक्ति को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया और इस बार एक आदिवासी महिला को उम्मीदवार बनाया है, इसके लिए हम प्रधानमंत्री जी को भी धन्यवाद देते हैं। उन्होंने कहा कि मुझे भरोसा है कि श्रीमती द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति के रूप में काम करने का मौका मिलेगा तो वे अच्छा काम करेंगी। उन्होंने कहा कि एन०डी०ए० के सभी दल आपका समर्थन तो करेंगे ही अन्य दलों के लोग भी आपको वोट देंगे और आप भारी मतों से विजयी होंगी। आप यहां आयी हैं, मैं आपका अभिनंदन करता हूं।

कार्यक्रम की शुरुआत में मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने एन०डी०ए० की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार श्रीमती द्रौपदी मुर्मू को अंगवस्त्र प्रदान कर एवं बुके भेंटकर स्वागत किया। कार्यक्रम को एन०डी०ए० की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार श्रीमती द्रौपदी मुर्मू ने संबोधित करते हुये बिहार के गौरवशाली अतीत का जिक्र किया और बिहार के प्रति अपने लगाव की भी चर्चा की।

उन्होंने राष्ट्रपति पद के समर्थन के लिये मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार का आभार व्यक्त किया और एन०डी०ए० के सभी सांसदों एवं विधायकों को धन्यवाद दिया।

कार्यक्रम को केंद्रीय जल शक्ति मंत्री श्री गजेंद्र सिंह शेखावत, केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री सह राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री पशुपति कुमार पारस, उप मुख्यमंत्री श्री तारकिशोर प्रसाद, उप मुख्यमंत्री श्रीमती रेणु देवी, जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष श्री संजय जायसवाल एवं हम पार्टी के संस्थापक सह पूर्व मुख्यमंत्री श्री जीतन राम मांझी ने भी संबोधित किया।

इस अवसर पर केंद्रीय आयुष सह पत्तन, पोत परिवहन एवं जलमार्ग, मंत्री श्री सर्वानंद सोनेवाल, केंद्रीय गृह राज्य मंत्री श्री नित्यानंद राय, केंद्रीय पर्यावरण वन एवं जलवायु परिवर्तन, उपभोक्ता मामले, खाद्य व सार्वजनिक वितरण राज्यमंत्री श्री अश्विनी कुमार चौबे, बिहार विधान परिषद् के कार्यकारी सभापति श्री अवधेश नारायण सिंह, पूर्व उप मुख्यमंत्री सह सांसद श्री सुशील कुमार मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय मंत्री श्री तरुण चुघ, जदयू के प्रदेश अध्यक्ष श्री उमेश कुशवाहा

सहित अन्य मंत्रीगण, सांसदगण, विधायकगण एवं अन्य विशिष्ट अतिथि उपस्थित थे। कार्यक्रम के पश्चात् पत्रकारों से बात करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी लोगों ने अपनी बात कही है, मुझे पूरा भरोसा है कि श्रीमती द्रौपदी मुर्मू भारी मतों से विजयी होंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.