नीतीश सरकार का ध्यान सिर्फ जनता के सर्वांगीण विकास और साम्प्रदायिक सद्भाव पर : प्रो रणबीर नंदन

देश

पटना. देश भर लाउडस्पीकर पर अजान पर पाबंदी लगाने और कॉमन सिविल कोड लागू करने की चर्चा चल रही है। लेकिन बिहार में सत्तारूढ़ जनता दल यूनाइटेड ने इन दोनों बातों को मुद्दा मानने से ही इनकार कर दिया है। जदयू के प्रदेश प्रवक्ता व पूर्व विधान पार्षद प्रो. रणबीर नंदन ने कहा कि बिहार में नीतीश सरकार का सिर्फ एक ही मकसद है और वो है बिहार की जनता का सर्वांगीण विकास। हर व्यक्ति का विकास हो, वो स्वस्थ रहे, शिक्षित हो, रोजगार मिले, सुरक्षा मिले और संविधान के अनुरूप उसे उसके सभी अधिकार मिलें, यही सरकार का कार्य है।
प्रो. नंदन ने कहा कि अजान लाउडस्पीकर पर होगा या किसी और तरीके से यह निहायती धार्मिक और अंदरूनी मामला है। इन बातों में दखल देने का सवाल ही नहीं उठता है। नीतीश सरकार ऐसे अनावश्यक मुद्दों पर न कोई एक्शन लेगी और न ही बिहार में इसके लिए कोई गुंजाइश है। बिहार की जनता को पूरा अधिकार है कि वो अपने धार्मिक स्वतंत्रता का पूर्ण इस्तेमाल करे, इसमें कोई रोक किसी को भी नहीं। नीतीश कुमार जी के नेतृत्व में बिहार गंगा-जमुनी तहजीब का बेहतरीन उदाहरण है।
वहीं कॉमन सिविल कोड पर प्रो. नंदन ने कहा कि बिहार में इसे लागू करना तो दूर इस पर बहस तक की गुंजाइश नहीं है। नीतीश सरकार जनता को हर हाल में बिजली, पानी, सड़क, रोजगार, शिक्षा देने के लिए कृतसंकल्पित है और सिर्फ इन्हीं के लिए काम करेगी। इन बातों का विकास से कोई लेना देना नहीं है। देश में संविधान ने जो दायरे तय किए हैं, उसके अनुरूप ही सरकारों को काम करना होता है और बिहार में यही हो रहा है।
प्रो. नंदन ने कहा कि राजनीति में कौन सी बात किस दल के लिए मुद्दा है, इस पर किसी का वश नहीं चल सकता। लेकिन जब गठबंधन की सरकार बनती है तो विचारधारा से अलग कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर चलती है। इसी कारण बिहार में गठबंधन की भी टिकाऊ और स्पष्ट नीति वाली सरकार है जो नीतीश कुमार की अगुवाई में बिहार की जनता की बेहतरी के लिए काम करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.