गोरखपुर से स्पाइस जेट की सभी उड़ानें 31 जुलाई तक निरस्त

देश

गोरखपुरः कई विमानों में तकनीकी खामी सामने आने के बाद आठ सप्ताह के लिए स्पाइस जेट की पचास फीसदी उड़ानों पर रोक लगा दी गई है। नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने एक अप्रैल से पांच जुलाई के बीच विमानों में आई गड़बड़ियों के बाद यह प्रतिबंध लगाया है। गोरखपुर एयरपोर्ट के मुख्य सुरक्षा अधिकारी विजय कौशल ने बताया कि फिलहाल, 31 जुलाई तक स्पाइस जेट की गोरखपुर से सभी उड़ानें निरस्त की गयी हैं।

स्पाइस जेट की मुंबई की उड़ान गुरुवार को निरस्त कर दी गई थी। अब स्पाइस जेट ने शुक्रवार से 31 जुलाई तक मुंबई, दिल्ली, कानपुर और वाराणसी के लिए अपनी सभी उड़ानें निरस्त कर दी हैं। फ्लाइट कैंसिल होने के बाद यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

इधर, यात्रियों की परेशानी के मद्देनजर गोरखपुर-एलटीटी सहित आधा दर्जन स्पेशल ट्रेनों की संचालन अवधि बढ़ा दी गयी है। दो अगस्त तक चलने वाली 01028 गोरखपुर-लोकमान्य तिलक टर्मिनस स्पेशल एक्सप्रेस 27 सितंबर तक प्रत्येक सोमवार, मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को 36 फेरों में चलेगी। इसी तरह 31 जुलाई तक चलने वाली 01027 लोकमान्य तिलक टर्मिनल- गोरखपुर स्पेशल एक्सप्रेस दो अक्टूबर तक प्रत्येक मंगलवार, गुरुवार, शनिवार एवं रविवार को 36 फेरों में चलाई जाएगी।

उल्लेखनीय है कि गोरखपुर के सांसद रवि किशन ने संसद में गोरखपुर से वाराणसी होते हुए प्रयागराज तक के लिए शताब्दी ट्रेन चलाने की मांग की है। रवि किशन ने रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव को बताया है कि गोरखनाथ मंदिर, अयोध्या, कुशीनगर, देवरिया में देवरहा बाबा और कबीर के निर्वाण स्थली पर बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं का आवागमन होता है। ऐसे में अगर गोरखपुर से वाराणसी होते हुए प्रयागराज तक शताब्दी ट्रेन का संचालन शुरू होता है तो श्रद्धालुओं को काफी सुविधा होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.